VPN क्या है? कैसे काम करता है? Hindi - WhatYouRemind


(whatyouremind ) आपने काफी बार VPN के बारे में सुना होगा | पर आप जानते है VPN क्या है ? VPN कैसे काम करता है ? आज में आपको VPN (virtual private network ) के बारे Hindi  में डिटेल में बताने जा रह हूँ | अगर आप कुछ सीखना चाहते है तो इस आर्टिकल को आप पूरा पढ़े |

VPN के बारे में जानने से पहले कुछ बाते आपको जानना ज़रूरी है | जैसे की आप को इंटरनेट के बारे में पता होना चाहिए | इंटरनेट पर किसी चीज़ को कैसे सर्च करते है | रही बात VPN  की , तो आज के इस समय में आप जो भी चीज़ इंटरनेट पर सर्च करे है , Google या Bing सर्च इंजन द्वारा उसे देखा  कर लिया जाता है  | 

ऐसे में सर्च की गयी जानकारी के आधार पर आपको विज्ञापन दिखाए जाते है | विज्ञापन दिखने वाली कंपनी ऐसा करके करोड़ो कमाती है | Google अपने प्लेटफार्म पर आने वाले हर  एक यूजर के सर्च डाटा को ट्रैक करता है | और फिर विज्ञापन दिखता है | इस तरह ट्रैक होने से बचने के लिए इंटरनेट के स्मार्ट यूजर VPN का इस्तेमाल करते है | 

vpn-kaise-kaam-karta-hai-whatyouremind
VPN  कैसे काम करता है ? 


VPN के अनेकों फ़ायदे है | इसलिए VPN का इस्तेमाल बढ़ गया है | पर यदि आप VPN को आने वाले समय में इस्तेमाल करने जा रहे है तो आपको पहले इसके बारे में जान लेना चाइये | 

VPN Kya hai  ? 

vpn-kya-hai-hindi
Vpn kya hai

VPN को Virtual Private Network के नाम से भी जाना जाता है | इसे वर्चुअल इसलिए कहा गया है क्युकी इसे देखा या ट्रैक नहीं किया जा सकता | 

VPN आपको दुनिया में मौजूद किसी भी नेटवर्क से जोड़ सकता है | ख़ास कर  वो नेटवर्क या वेबसाइट जो आपके देश में बैन  हो | VPN चलाने के लिए आपने ISP से इसकी परमिशन लेनी होती है | और एक नियमित राषि का भुकतान करना होता है | 

ISP - Internet  Service  Providers को कहंते है | ये वो कंपनी होती है जो किसी भी देश में इंटरनेट की सेवी देती है | जैसे इंडिया में ISP के नाम में मुख्य रूप से रिलायंस जिओ , एयरटेल और वोडाफोन आती है | इन कंपनी को देश की गवर्नमेंट से इंटरनेट सर्विस मुहैया कराने की अनुमति मिली होती है | 

VPN लेने के लिए इन कम्पनी के इलावा भी कम्पनी होती है | इसको 3rd party कम्पनी कहा जाता है | इनके नाम कुछ इस तरह है | NordVPN , ExpressVPN  मुख्य है | आप यहाँ पर जा कर देख सकते है |  


किसी भी  नेटवर्क को इस्तेमाल करने के लिए लॉगिन इनफार्मेशन चाहिए होती है | जैसे की यूजरनेम और पासवर्ड | पर ये भरते ही आपकी डिवाइस की इनफार्मेशन, IP एड्रेस और लोकेशन सर्वर पर शेयर हो जाती है | जिसे एक्सेस करके आपके फ़ोन में सर्वर द्वारा कुकीज़  बनाई जाती है , ये कुकीज़  पर्सनल इनफार्मेशन के साथ-साथ आपको और भी फाइल को एक्सेस करता है | और आपकी एक्टिविटी को ट्रैक करके आपको विज्ञापन दिखाए जाते है | 

VPN kaise kaam karta hai ? 


vpn-kya-hai-hindi
vpn kaise kaam karta hai

इससे बताने से पहले, आपको ये पता होना चाहिए की हम पब्लिक VPN सर्विस की बात कर रहे है |  पब्लिक VPN वही सर्विस होती है जो की पर्सनल कंप्यूटर , फ़ोन और टेबलेट में इस्टेनल की जाती है |  

पब्लिक VPN के सिद्धांत VPN जो की कम्पनी में इस्तेमाल होने वाली "सर्वर-टनल" जैसी ही है |  

जब आप VPN का इस्तेमाल नहीं करते तब आपका इंटरनेट ट्रैफिक  पहले किसी बॉर्डबैंड से पास किया जाता है | इस बोर्डबैंड को किसी ISP कंपनी द्वारा लगाया जाता है | जो की आसानी से आपकी लाग(Log) फाइल को देख सकते है | ऐसे में वो आपके ऑनलाइन एक्टिविटी को देख सकते है क्युकी साडी लाग फाइल को देख सकते है क्युकी सारी फाइल उनके सर्वर पर जमा होती है | 



किसी आपराधिक मामले में इन्ही लाग  फाइल से केस की अहम् जानकारी जुटाई जाती है | ISP कंपनी इन फाइल्स को पुलिस को शेयर कर सकती है | लाग फाइल्स में लोकेशन, डिवाइस इनफार्मेशन, फिस्शल एड्रेस , IP एड्रेस , IMEI  नंबर इस तरह की जानकारी होती है | 


VPN का जब आप इस्तेमाल करते है तो ये ISP कंपनी द्वारा जुटाए गए डाटा को एन्क्रिप्ट (encrypt ) कर देती है | जिससे जमा किया गया डाटा किसी काम का नहीं रहता | 

और आपका सर्वर लोकेशन रिमोट लोकेशन होता है | जिस देश से आप VPN का इस्तेमाल कर  रहे है ,हमेशा उससे  बाहर  का लोकेशन | 

VPN से आपका IP एड्रेस देश से  बाहर होस्ट हो रहे  सर्वर पर होगा | और आप आसानी से उसका इस्तेमाल उन वेबसाइट के लिए कर सकते है जो आपके देश में बैन कर दी गयी है | 


ज़रूरी जानकारी : VPN सर्विस देने वाली कंपनी के सर्वर हर देश में होते है | और इनकी गिनती 2 या 3 नहीं ,  100 में होती है |  


VPN क्यों इस्तेमाल करें : (Why Use VPN)

1 . अगर आप विज्ञापन से बचना चाहते है | और ये चाहते है की कोई भी कंपनी गूगल , अमेज़न और फेसबुक आपकी ऑनलाइन एक्टिविटी को ट्रैक करके आपको विज्ञापन के लिए टारगेट न करे तो आप VPN का इस्तेमाल कर  सकते है | 

2. अगर आप किसी प्रतिष्ठित कंपनी के संचालक है तो आप ये बिलकुल नहीं  चाहेंगे की आपका पर्सनल डॉटा या वेबसाइट हैक करी  जाये | इसलिए आप VPN का इस्तेमाल कर सकते है | 

3. अगर आप ऑनलाइन ट्रांसक्शन , ऑनलाइन पेमेंट या फिर प्रोफेशनल यूज़  के लिए VPN का इस्तेमाल कर  सकते है | 

Conclusion:

आपको VPN के बारे में जानकारी अच्छी लगी होगी | इस आर्टिकल में मैंने आपको VPN क्या होता है | VPN कैसे काम करता है और VPN के फ़ायदे बताये है |

उम्मीद करता हु की आपको  VPN के बारे में दी गयी जानकारी पसंद आई होगी | आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करके उनकी जानकारी में भी इजाफा करें | हर हफ्ते कुछ नया सिखने के लिए आप हमें Subscribe  भी कर सकते है | इसके लिए आपको bell  notification को दबाना होगा | इस व्हाट्सप्प पर भी शेयर करे | ये बिलकुल फ्री है | 


About Author:

मेरा नाम "कुमार गौरव सिंह" है |मुझे पढ़ने लिखने का बहुत शौंक है| WhatYouRemind ब्लॉग के माध्यम से मैं उन बच्चों और बड़ों को रोचक जानकारी प्रदान करना चाहता हूँ, जो अक्सर किताबों में नहीं मिलती| वह भी हिंदी में | जिससे शिक्षा को एक नए स्तर पर पहुँचाया जा सके |


Let's Get Connected: Twitter | Quora | Instagram