Search Fast here!

Cloud in Hindi | WhatYouRemind

WhatYouRemind के इस आर्टिकल में Cloud in Hindi में बताया जायेगा | क्लाउड (Cloud) दोस्तों यह नाम आपने बहुत बार सुना होगा| पर क्या आप जानते हैं इसका मतलब क्या है??? जब आप कंप्यूटर, मोबाइल फोन यह अपनी पेन ड्राइव में कोई ऑडियो, वीडियो या टेक्स्ट फाइल को कॉपी पेस्ट करते हैं, तो डाटा इकट्ठा करने का वह एक डिजिटल माध्यम होता है| वहीं क्लाउड (Cloud) डाटा इकट्ठा करने का एक वर्चुअल माध्यम है | इस वर्चुअल माध्यम में आप किसी भी सरवर, स्टोरेज ,डाटा बेस, नेटवर्किंग, सॉफ्टवेयर, एनालिटिक या  इंटरनेट पर मिलने वाली चीजों को आप क्लाउड (Cloud) पर रख सकते हैं| क्लाउड (Cloud) पर जमा किया गया डाटा हर तरह के डिवाइस से एक्सेस किया जा सकता है |क्लाउड (Cloud) पर आपका डाटा सुरक्षित रहता है क्योंकि यह बड़ी कंपनियों के सरवर पर मौजूद होता है, जिस की निगरानी में हर साल काफी पैसे खर्च होते हैं |
cloud-in-hindi-history-benefits-whatyouremind
Cloud in Hindi 


जैसा कि आप जानते हैं की क्लाउड की मदद से आप अपनी फाइलों को किसी भी डिवाइस से देख सकते हैं | ऐसे में यह आसानी से एक से दूसरे कंप्यूटर या मोबाइल में शेयर किया जा सकता है | आपका कंप्यूटर या मोबाइल खराब हो जाए तो भी आपका डाटा सुरक्षित रहेगा |


आज के इस आर्टिकल में मैं आपको क्लाउड के बारे में ही कुछ महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहा हूं | मैं उम्मीद करता हूं कि आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ेंगे, जिससे कि लव से जुड़ी हुई सारी जानकारी आपको मिल सके |

क्लाउड का इतिहास हिंदी में ( Cloud History in Hindi) : 

  • > क्लाउड शब्द क्लाउड कंप्यूटिंग से लिया गया है, क्लाउड कंप्यूटिंग में सिर्फ डाटा ही नहीं, एक बड़ी मात्रा में इंफ्रास्ट्रक्चर और सरवर को भी शेयर किया जा सकता है | इससे व्यापार को एक नई दिशा मिल जाती है क्योंकि उन्हें व्यापार स्थापित करने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर को तैयार नहीं करना पड़ता और वह इससे निश्चित रकम पर इस्तेमाल कर सकते हैं | जोकि क्लाउड सर्विसेज मुहैया कराने वाली कंपनियों को चुकानी पड़ती है जिसमें AWS, Microsoft Azure, IBM जैसी कंपनियों ने अपना वर्चस्व कायम किया हुआ है | 
    cloud-in-hindi-history-benefits-whatyouremind
    cloud infrastructure

  • > पहले 'क्लाउड कंप्यूटिंग' के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं थी | पर 2006 में जब Amazon ने अपना क्लाउड कंप्यूटर प्रोडक्ट बाजार में उतारा, तो यह शब्द काफी प्रसिद्ध हुआ | सन 1996 में पहली बार सुनने को मिला था, पर उसके बाद से क्लाउड कंप्यूटिंग के बारे में कभी कोई चर्चा नहीं हुई | 

  • > सन 2008 में गूगल ने भी क्लाउड कंप्यूटिंग की बढ़ती मांग को समझा और 'गूगल एप इंजन' के नाम से अपनी सेवाएं मुहैया कराई | 

  • > सन 2010 में माइक्रोसॉफ्ट ने  Microsoft Azure के नाम से क्लाउड के ऊपर आधारित सेवाओं को लांच किया | जिसकी घोषणा उन्होंने 2008 में ही कर दी थी | 

  • > सन 2011 में आईबीएम ने IBM SmartCloud framework लांच किया जिसे अपने बिजनेस से जुड़े हुए पार्टनर के लिए बना रही थी | ठीक 1 साल बाद ओरेकल भी  Oracle Cloud के माध्यम से क्लाउड कंप्यूटिंग के बिजनेस में उतर गया | 

क्लाउड कंप्यूटिंग के लाभ (Benefits of cloud computing ) : 

cloud-in-hindi-history-benefits-whatyouremind
Benefits of Cloud Computing

क्लाउड कंप्यूटिंग का एकमात्र लक्ष्य है कि वह उन लोगों को फायदा पहुंचाना चाहती है क्लाउड के बारे में गहरी समझ नहीं रखते | क्लाउड व्यापार में उन लोगों की मदद करता है जो कि अपने व्यापार हो आगे लेकर जाना चाहते हैं, पर इसके लिए वह इंफ्रास्ट्रक्चर, कंप्यूटर, वर्चुअल मशीन, सरवर, और सर्विस को नहीं बना सकते | क्लाउड कंप्यूटिंग में यह सब उन्हें थोड़े पैसे चुका कर मिल जाता है, और वह इसे अपनी जरूरत के हिसाब से घटा या बढ़ा सकते हैं| जिससे वह क्लाउड की उतनी ही कीमत चुकाएंगे, जितना उन्होंने इस्तेमाल किया हो | चलिए मैं आपको क्लाउड कंप्यूटिंग में होने वाले कुछ विशेष लाभ के बारे में विस्तार से बताता हूं |

> Speed : क्लाउड एक ऑन डिमांड सर्विस है | मतलब की जब भी आपको ज्यादा स्पेस की ज़रूरत हो , तब आप कुछ क्लिक के साथ स्पेस ले सकते है | और छोड़ भी सकते है |  देखा जाए तो यह सब काम समय में हो जाता है |  बिज़नेस के लिए यह काफी महत्वपूर्ण है , क्युकी एक उन्हें काम करने में तेज़ी प्रदान करता है |



> Cost : क्लाउड कंप्यूटिंग को इस्तेमाल करने से आपके अतिरिक्त खरच कम  हो जाता है क्युकी आपको हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर पर कोई पैसे खरच नहीं करने पड़ते | नहीं आपको कोई सर्वर खरीदने की ज़रूरत है | नहीं आपका कोई डेटासेंटर बनाने पर खरचा आएगा |  सब कुछ बना बनाया मिलेगा | आपको बस इस्तेमाल करने के पैसे चुकाने होंगे |

> Security :  क्लाउड में आपको सिक्योरिटी मिलती है | क्युकी सभी पालिसी, टेक्नोलॉजी और कण्ट्रोल क्लाउड मुहैया  करवाने वाली कंपनी के पास होता है | और कंपनी इसे दूसरे लोगो के साथ शेयर नहीं करती | इसलिए सिक्योरिटी के लिहाज से ये काफी अच्छा  मालूम होता है |


cloud-in-hindi-history-benefits-whatyouremind
cloud security

वैसे तोह आप जान ही गए होंगे की क्लाउड (Cloud) बदलते ज़माने की एक उम्दा टेक्नोलॉजी है जो की धीरे धीरे अपने पैर जमता जा रहा है | इसे बिज़नेस और पर्सनल यूज़ के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है | और कई बड़ी कंपनियां इसमें खूब पैसा लगा रही है | जिसमे से गूगल ड्राइव , ड्रॉपबॉक्स , वन ड्राइव , आई क्लाउड , अमेज़न वेब सर्विसेज , अडोबे और माइक्रोसॉफ्ट azure  को अच्छा  मन जाता है | आप भी इन सर्विस को इस्तेमाल कर सकते है | गूगल और अमेज़न की तरह से फ्री में दी जा रही है | बाकी कोई भी सर्विस यूज़ करने पर पैसे देने पड़ते है | अधिक जानकारी के लिए आप इस सर्विसेज की ऑफिसियल वेबसाइट पर बही जा सकते है | अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया तो आप इसे शेयर करके अपने दोस्तों तक भी इस जानकारी को पहुंचा सकते है | 

About Author:

I am Kumar Gaurav Singh, author of WhatYouRemind blog. I have 2 years of experience in SEO and Copywriting. I worked as a content writer too. I helps people in blogging, SEO, digital marketing and web site development.


Let's Get Connected: Twitter | Quora

Powered by Blogger.