Blogging Guide for Beginner in Hindi



बहुत से लोगों का यह सवाल रहता है ब्लॉगिंग कैसे शुरू करें ?  हालांकि यह समझने में कोई बड़ी मुश्किल नहीं है कि ब्लॉकिंग डिजिटल इकोनामी का एक बहुत बड़ा है |  अमेरिका जैसे विकसित देश में बड़े पैमाने पर लोग शौकिया या बिज़नेस के लिए पर ब्लॉगिंग करते हैं | 

पर सब कुछ बदल रहा है |  जहां लोग सिर्फ  पढ़ने लिखने के लिए अपनी जिंदगी से समय नहीं निकाल पाते थे, वही लोग मोबाइल फोन के आने से घंटों ब्लॉग्स पढ़ते हैं | या फिर इंटरनेट पर रोचक जानकारियों को खोजा करते हैं |  देखा जाए तो यह एक बड़ा  बाजार बनने की ओर अग्रसर हो रहा है |

blogging-hindi-1


और अगर आप भी  ब्लॉगिंग करके पैसे कमाने के सपने देख रहे हैं |  आप सही हैं |  आपको ब्लॉगिंग जरूर करनी चाहिए |  ब्लॉगिंग करने के लिए कोई भी की ज़रूरत नहीं है | आपको बस एक लैपटॉप और अपना ब्लॉग बनाने की ज़रूरत है | पर ब्लॉग बनाने से पहले आपको ब्लॉगिंग के बारे में कुछ गहराई से जानकारी होना आवश्यक है | 

ऐसा इसलिए क्योंकि जब आप पैसों के लिए ब्लॉगिंग करेंगे,  तो आप का कॉन्पिटिशन अपनी फील्ड के कुछ चुनिंदा बड़े ब्लॉगर से होगा , जिनका नाम और तजुर्बा आपसे ज्यादा है | पर डरने की कोई ज़रूरत नहीं है क्युकी ब्लॉगिंग की सबसे खास बात यह है कि जहां एक दो  कदम आपके सही दिशा में पड़ गए,  आपको कोई भी रोक नहीं सकता | 

इससे पहले आपको ब्लॉगिंग के बारे में गहरी जानकारी होनी चाहिए | इस आर्टिकल की जानकारी आपको आने वाले समय में ब्लॉगिंग के फील्ड में  टिके रहने और कुछ नया करने में मदद करेगी | 

यह भी पढ़ें - How to write article on blog | Hindi | 

शुरूआती वर्ष 2008 में जैसे ब्लॉगिंग होती थी, 2019  मैं ठीक उससे उल्टा हो रहा है |  जहां लोग शौकिया तौर पर ब्लॉगिंग करते थे ,  अब लोग अपने बिजनेस को बढ़ाने और ज्यादा सामान बेचने के लिए ब्लॉगिंग करते हैं | बड़े ब्रैंड और  कंपनियां भी इस बात को भलीभांति समझते हैं  कि उन्हें इस से कितना फायदा होने वाला है |  इसीलिए गूगल, अमेज़न और फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियां अपने  ऐडसेंस और एफिलिएट जैसे एडवरटाइजिंग पार्टनर के साथ समझौता करती है और अपने प्रोडक्ट को नए कस्टमर तक पहुंचाते हैं |

यही नहीं बड़े ब्रैंड अमेज़न, फ्लिपकार्ट और माइक्रोसॉफ्ट थर्ड पार्टी प्रोग्राम भी अपने एफिलिएट प्रोग्राम लाते है, जहा वे अपना सामान सेल करने के लिए 10-12% कमिशन देते है | shareASale और impactRadious इसका बड़ा उदाहरण है | अंत मे मैं यही कहना चाहूँगा की आप कुछ भी सोचे  पर ब्लॉगिंग का बाज़ार  बहुत बड़ा है | यहाँ हर किसी के लिए कुछ न कुछ मौजूद है | बस ज़रूरत है प्रयास करने की | 

अगर आप भी इन अवसरों से अवगत है तो आप ये किताब ज़रूर खरीदेंगे या खरीद चुके होंगे | जिससे भविष्य में ब्लॉगिंग में सफल होने की संभावनाएं और भी तत्पर हो गयी है | Link

मैं अपनी इस आर्टिकल में आपको ब्लॉगिंग से जुड़े हर तरह की जानकारी साझा कर लूंगा जिससे आपको अपने ब्लॉगिंग करियर को सुधारने में मदद मिलेगी |  आप इस आर्टिकल को पड़ेंगे तो आप यह समझ पाएंगे कि आपको किस दिशा में कब आगे बढ़ना है | ये नए ब्लॉगर के लिए एक दम  सही आर्टिकल है, जो उनके ब्लॉगिंग से जुड़े छोटी-छोटी दुविधाओं को दूर करेगा | 

इस आर्टिकल  में ब्लॉगिंग से जुड़ी जानकारी जैसे कि 
  • ब्लॉगिंग क्या है?  
  • ब्लॉगिंग के प्लेटफार्म क्या है?  
  • आप को कोनसा ब्लॉगिंग प्लेटफार्म चुनना चाहिए?
  •  ब्लॉगिंग के लिए किस भाषा को चुनना सही रहेगा? 
  • अगर आप स्टूडेंट हैं तो आपको ब्लॉगिंग के लिए क्या चाहिए? प्रोफेशनल ब्लॉगिंग किस तरीके से की जाती है?  
  • शुरुआत में आप अपने ब्लॉग से किस तरह से कमाई कर सकते हैं? 


और इसी तरह के ढेर सारे  सवालों का जवाब मैं अपनी एक आर्टिकल और किताब के रूप में आपको देने जा रहा हूं | अगर आप सोच रहे है की जानकारी तो आपको इंटरनेट पर भी मिल जाएगी तो आप गलत है |

ब्लॉगिंग के बारे में जानकारी देने वाले ब्लॉगर और  यूट्यूबर  को  खुद भी इतनी जानकारी नहीं होती कि वह दूसरों को सही से सलाह दे सकें |  वह तो एक दूसरे की वीडियो देख कर वहीं कुछ अपनी वीडियो में बता देते हैं | 

इससे उनका कोई नुकसान नहीं होता |  क्योंकि वह तो अपना काम कर रहे हैं की यूट्यूब पर लगातार वीडियो डाल रहे हैं जिससे उनको  ढेरों पैसे बने |  पर नुकसान तो आपका ही हो रहा है क्योंकि आप  इस तरह की वीडियो को एक दो बार नहीं कई बार देखते हैं और अंत में आपको कुछ भी समझ नहीं आता | 

यह भी पढ़ें - How to become a blogger | Tips in Hindi  

पर मैं इस आर्टिकल द्वारा आपको  ब्लॉगिंग के फील्ड में घट रही घटनाओं का बयोरा  दूंगा |  किस तरह से बड़े ब्लॉगर अपने ब्लॉग के माध्यम से लाखों का मुनाफा कमाते हैं | जो की जानकारी किस आर्टिकल में दी गई है उसे आप सही मायनों में अपने ब्लॉग में इस्तेमाल कर सकते हैं और अपने ब्लॉग को एक नए रूप में लोगों के सामने प्रस्तुत कर सकते हैं | 

मेरा नाम कुमार गौरव सिंह है | मुझे ब्लॉगिंग के फील्ड में 3 साल का एक्सपीरियंस है |  मैंने कई कंपनियों के साथ काम किया है |  फ्रीलांसर के तौर पर भी मैंने कई कंपनी और ब्रैंड के साथ काम किया है |  मैंने अपनी एक फील्ड में शुरुआत एक कॉपी राइटर के तौर पर की थी जो कि कंपनियों के लिए प्रमोशनल वेबसाइट कंटेंट लिखते हैं | मुझे SEO और कंटेंट राइटिंग भी अच्छे से आती है |  धीरे-धीरे मेरा रुझान ब्लॉगिंग की तरफ से गया और मैंने इसमें भी काफी कुछ सीखा , जो कि मैं इस आर्टिकल या किताब के माध्यम से आपसे बांटना चाहता हूं | 

मैं जो भी जानकारी आपको इस  में  दूंगा,  उसे आप सीधे तौर पर अपने ब्लॉग में कमाल कर सकते हैं और अपने ब्लॉग  की रैंकिंग और विजिटर की संख्या को सुधार सकते हैं |  क्योंकि यह तरीके मैंने अपने जॉब  करते समय दूसरे ब्लॉग पर आए थे,  और इनके परिणाम भी मुझे अच्छे मिले हैं |  यह  पक्के तौर पर आप की भी मदद करेंगे |  यह मैं अपने विश्वास से कह रहा हूं | 

कोई भी यूट्यूबर या ब्लॉगर आपको इन ब्लॉगिंग स्ट्रेटेजी के बारे में नहीं बताता क्युकी वे खुद नहीं जानते | और पूरी जानकारी न होने के बावजूद भी 10 दिन में लाखों कमाने का दावा करते है | यह सब झूठ है |  ब्लॉगिंग से आप अच्छे पैसे जरुर कमा सकते हैं |  पर  इस में कुछ वक्त लगता है |  अगर आपके ब्लॉग पर अच्छा खासा ट्रैफिक आने लग जाए तो जरूर आप 1 दिन में अच्छी कमाई के बारे में सोच सकते हैं | 

परंतु यह एकाएक हो जाएगा ,  इस तरह सोचना आप की बेवकूफी होगी | जो भी आपको इस तरह की सलाह दें वे आपको गुमराह कर रहे हैं |  ऐसे लोगों से बचकर रहें क्युकी ये सिर्फ अपना फ़ायदा चाहते है |  जितने भी तरीके या टिप्स मैं आपको बताऊंगा वह धीरे धीरे अपना काम करेंगे और आपको कम से कम 15 से 20 दिन तक उसे लगातार इस्तेमाल करना होगा | 

ब्लॉगिंग के फील्ड में एक बात आपको याद रखनी होगी कि “संयम बनाए रखें” |  आप संयम रखेंगे तो आपके ब्लॉग पर विजिटर भी आने लग जाएंगे और आपके ब्लॉग से आपको कमाई भी होने लग जाएगी | चलिए हम ब्लॉगिंग को अच्छे से जानना शुरू करे | और अगर दिन के हजारों विजिटर न भी आये, 100 से भी आप एक महीने में ठीक-ठाक कमाई कर सकते है | इसके लिए आपको इस आर्टिकल या किताब को पूरा पढ़ना होगा | 


‘Blogging’ से आप क्या समझते है?(Defination and Detail View)

नियमित रूप से ब्लॉग लिखने को ब्लॉगिंग कहते हैं |  आजकल बहुत से फ्री और पेड (paid) दोनों तरह के ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म  मौजूद है , जो आपको ब्लॉगिंग करने के लिए प्रेरित करते हैं |  ब्लॉगिंग करने के लिए आपको  ब्लॉगिंग प्लेटफार्म पर अपना ब्लॉग बनाना पड़ता है,  जिसमें आप अपने अनुभव,  जानकारी या अपने काम को  दूसरे लोगों के साथ साझा कर सकते हैं | 

blogging-hindi-2

पर ब्लॉग यहां तक ही सीमित नहीं है | आप ब्लॉग को इंटरनेट पर मौजूद लिंक से खोज सकते हैं या फिर आप इसे सर्च इंजन जैसे गूगल , या सोशल मीडिया जैसे फेसबुक , टि्वटर से भी लिंक या पोस्ट की मदद से खोज सकते हैं | ब्लॉग वेब पेजों का एक समूह होता है , जहां पर जानकारी को reverse chronological order में लिखा जाता है |

ब्लॉग नियमित रूप से अपडेट होता है | यही कारण है की वहां पर आपको नयी जानकारी मिलती है | न्यूज़ वेबसाइट - ब्लॉग का एक जीता जागता उदाहरण है | 

ब्लॉग में सांझा की जाने वाली जानकारी इंटरनेट पर दूसरी वेबसाइट के अपडेट के रूप में ढूंढी जा सकती है | इस जानकारी को पब्लिक या फिर प्राइवेट एक्सेस दे सकते हैं | यह ब्लॉग के मालिक के बस में होता है कि वह जानकारी को पब्लिक करना चाहता है या नहीं | ज्यादातर ब्लॉगर इसे पब्लिक रखते है, जिससे लोग इसे आसानी से पढ़ सकते है | ये जानकारी text, photo, infographics, videos और audios(podcasts) के रूप में ब्लॉगपोस्ट में डाली जाती है | 

ब्लॉग में लिखी गयी जानकारी दूसरी websites से पढ़ कर उसे अपनी तरीके में तब्दील करके भी अपलोड करी जा सकती है | पर आपको दूसरो ब्लागरों के काम का क्रेडिट उनको देना होता है | ये ज़रूरी है की आप जानकारी का सोर्स ज़रूर दे | ये क्रेडिट लिंक के रूप में हो सकता है | लिंक के मेरा मतलब Hyperlinks से है , जो Dofollow और nofollow backlinks के रूप में दिया जाता है | ये ब्लॉग को गूगल, बिंग जैसे सर्च इंजन में  रैंक कराने में एक अहम् भूमिका निभाते है | 

ब्लॉग किसी भी भाषा में हो सकता है | पर भाषा का इस्तेमाल एक जैसा ही होना चाहिए | इससे रीडर और सर्च इंजन दोनों को फ़ायदा होता है | ब्लॉग एक niche में बहाना अहम है | 

Blog niche ब्लॉग के बारे में यह बताता है, कि वह किस टॉपिक पर बना है | इससे ब्लॉग पर आने वाले विजिटर या रीडर यह जान सकते हैं कि इस ब्लॉग में किस तरह की जानकारी को साझा किया गया है | जैसे अगर कोई Tech ब्लॉग है तो वह गैजेट्स,और टेक्नोलॉजी से जुड़े अपडेट ही देखने को मिलेंगे |  

हर ब्लॉग का अपना  एक  विषय होता है,  जहां पर उस विशेष से जुड़ी जानकारी को भी साझा किया जाता है |  और यह जानकारी काफी गहराई से होती है |  उदाहरण के तौर पर आकर देखे तो laboral  एक भारतीय ब्लॉगर अमित  अग्रवाल द्वारा बनाया गया है |  जहां पर वह सिर्फ how-to guide अपने ब्लॉग के विजिटर के साथ शेयर करते है |   यह ब्लॉग पोस्ट टेक्नोलॉजी और टूल्स  के बारे में होते हैं | 

आपको भी इसी तरह का कोई विषय ढूंढना होगा जिसमें आप  एक अच्छा अनुभव रखते हों |  आप कोई ऐसे विषय को भी चुन सकते हैं,  जो आप सीख रहे हैं |  ब्लॉगिंग आपको सीखते हुए सिखाने का एक शानदार मौका देता है | 

Types of blog Niche:

Blog niche मैं काफी कुछ टॉपिक को कवर किया जा सकता है | पर आमतौर पर इस में इस तरह के ब्लॉग ही आते हैं | 
  • Personal blogs
  • Business blogs
  • News blogs
  • Parenting blogs
  • Finance blogs
  • Movies blogs
  • Music blogs
  • Lifestyle blogs
  • Travel blogs
  • Food blogs
  • Fashion blogs


आप चाहे तो किसी भी Blog niche में अपना ब्लॉग बना सकते है | ये इस बात पर निर्भर करता है की आप का passion और interest किस विषय में है |

ऐसा नहीं है कि ब्लॉगिंग के विषय ऊपर दिए गए लिस्ट तक ही सीमित हो |  आप चाहे तो इन विषयों के अंदर भी जाकर इन्हें हो और सहज रूप में चुन सकते हैं | 

उदाहरण के लिए  यदि आप कोई फिल्म ब्लॉग लिखते हैं तो आप चाहें  तो हॉरर फिल्मों के बारे में लिख सकते हैं जो बॉलीवुड और हॉलीवुड में बनती है |  हॉरर फिल्म से जुड़े हुए किरदार या एक्टर के बारे में जानकारी को साझा कर सकते हैं | 

आप सभी विषय अपने ब्लॉग के लिए चुने |  उसमें सिर्फ एक बात का आपको ध्यान रखना होगा कि आप उस विषय पर कम से कम 20 ब्लॉग पोस्ट लिखने के लिए तैयार हो | अगर आपका  रुझान क्रिकेट की तरफ है तो आप क्रिकेट का ब्लॉग बनाएं, न की फिल्म पर |


Blogger  बनने से पहले इन 3 बातों का रखें ध्यान | ( Tips for beginners in Blogging)

460 मिलियन से अधिक इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के साथ, भारत दूसरा सबसे बड़ा ऑनलाइन बाजार है, जो केवल चीन से पीछे है। 2021 तक, भारत में लगभग 635.8 मिलियन इंटरनेट उपयोगकर्ता होंगे। भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं के बड़े आधार के बावजूद, 2015 में केवल 26 प्रतिशत भारतीय आबादी ने इंटरनेट का उपयोग किया है। मौजूदा ग्रॉफ यहाँ से चेक करें |

यह पिछले वर्षों की तुलना में उल्लेखनीय वृद्धि है, भारत में इंटरनेट की प्रवेश दर 2011 में लगभग 10 प्रतिशत थी। इसके अलावा, पुरुषों ने भारत में इंटरनेट का उपयोग 71 प्रतिशत महिलाओं के 29 प्रतिशत के साथ किया।आप भी इस सही समय का फ़ायदा उठा सकते है ब्लॉगिंग से | 

blogging-hindi-3


ब्लॉगिंग करके आप एक अच्छे ब्लॉगर बन सकते है | आपको नियमित रूप से अपने ब्लॉग पर आने वाले विजिटर को नई जानकारी के साथ रूबरू कराना होगा |  यह जानकारी आप  इंटरनेट की मदद से जुटा सकते हैं | ऐसा करने से आपके विजिटर के बीच में आपकी लोकप्रियता बढ़ेगी |

ब्लॉगर बनने के लिए आपको इन बातों का ध्यान रखना होगा,  क्योंकि यही वो  महत्वपूर्ण किसे है जो आपको इस दिशा में सही कदम उठाने के लिए हमेशा ही प्रेरित करेंगे |

1. Blogging- Full Time या  Part Time: 

जैसा कि आप जानते हैं,  करियर बनाने के लिए यह जरूरी है कि आप अपना समय किस तरह से ब्लॉगिंग को देते हैं  | Part-time  और Full-time  दोनों ही ब्लॉगर की पहचान होती है |  
Full-time blogging  ब्लॉगिंग होती है जहां पर ब्लॉगर इसी पर  अपना पूरा समय देता है,  और अपनी आर्थिक जरूरतों के लिए मूल रूप से इसी पर  निर्भर करता है |  
वहीं Part-time  blogging   मैं ब्लॉगर इस पर निर्भर नहीं रहता,  और  वह अपनी शौक़ के लिए ब्लॉगिंग करता है |

2. Blogging platforms:

ब्लॉगर के लिए बेहद ही जरूरी है कि वह पहले से यह निर्णय करे  कि वह ब्लॉगिंग के लिए कौन से प्लेटफार्म को चुनता है |  ब्लॉगिंग के लिए दो तरह के प्लेटफार्म उपलब्ध है |  इसमें Free platforms और paid platforms  आते हैं |
Free platforms में blogspot.com और WordPress.com  आते हैं |  जहां पर आप बिना Domain और hosting   खरीदे अपने ब्लॉग को  बना सकते हैं |  आप बाद में चाहे तो अपना एक custom domain भी अपने ब्लॉक के साथ जोड़ सकते हैं | 
Paid platforms  मैं Wordpress.org , druple, joomla आते है जहा पर आपको Domain और hosting लेने की ज़रूरत पड़ती है | आपको हर साल इसका भुगतान करना होता है |  

3. Blog Niche और Language: 

Blog Niche  हर ब्लॉगर के लिए एक अहम फैसला होता है |  क्योंकि आपका ब्लॉग किस तरह की जानकारी पर बना हुआ है इसका  पता वेबसाइट पर आने वाले विजिटर को Blog Niche  से  ही पता लगता है |  मैंने Blog Niche  के बारे में जानकारी अपने पिछले ब्लॉग पोस्ट  मे  दी है |  आप चाहे तो इस लिंक पर जाकर देख सकते हैं | 

वहीं किस भाषा में जुटाई  गई जानकारियों को लिखना है,  यह भी 1 ब्लॉग के लिए बेहद जरूरी होता है |  क्योंकि इस बात से यह पता लगता है कि ब्लॉक पर कहां से लोग आएंगे | 
अगर आप अंग्रेजी भाषा को चुनते हैं तो आपके ब्लॉग से आने वाला ट्रैफिक अमेरिका या यूनाइटेड किंगडम  से आएगा |  
वहीं अगर आप हिंदी भाषा का उपयोग करते हैं तो आपके ब्लॉग पर विजिटर  भारत, पाकिस्तान और बांग्लादेश से होंगे |


यह तीनों ही चीजें आपको अब करियर के शुरुआती कुछ समय में ध्यान रखनी होंगी |   आपके ब्लॉग पर विजिटर आने लगे,  तो आप अपने ब्लॉग को मोनीटाइज कर सकते हैं |

ब्लॉग पर विज्ञापन दिखा कर ब्लॉग से पैसे कमा सकते है | ब्लॉग से पैसे कमाने के और भी कई तरीके है | जो आगे आने वाले अध्याय में आप पढ़ सकते है | 

ब्लॉगिंग को आप किस रूप में लेते है, फुल टाइम या पार्ट टाइम ये आपके ब्लॉगिंग करियर की सफलता के लिए जरूरी है | जितना टाइम आप ब्लॉगिंग को देंगे उतना ही आपके ब्लॉगिंग से पैसे कमाने की संभावना बनेगी | ऊपर बताये गए टिप्स आपको अपने ब्लॉग को बनाने और सही दिशा में स्थापित करने में मदद करेगा |
ये है सही blogging platform आपके लिए |


Popular Blogging Platform and Web Hosting  2019-2020:

blogging-hindi-4

क्या आप अपना ब्लॉग शुरू करना चाहते हैं, लेकिन यह पता नहीं लगा सकते हैं कि सबसे अच्छा ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म कैसे चुनें? यह एक कठिन विकल्प है क्योंकि वहाँ कई अलग-अलग ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म हैं। आपको कैसे पता चलता है कि कौन सा प्लेटफार्म आपके लिए सही है? आप अब पूरा जानेगे | 

ब्लॉगिंग के लिए प्लेटफार्म चुनना  हमेशा से ही एक मुश्किल काम रहा है क्योंकि ऐसे बहुत से ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है जो आपको फ्री में ब्लॉग बनाने का विकल्प देते हैं |  कुछ प्लेटफार्म पैसे लेकर भी आपको अपना ब्लॉग होस्ट करने की सुविधा देते हैं |  पर इनका मासिक शुल्क होता है |  जो आपको अपने ब्लॉग को होस्ट करने के लिए हर  महीने या फिर साल में एक बार अदा करना पड़ता है | 

कुछ ऐसे ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म भी मौजूद है,  जो आपको अपने प्लेटफार्म की सुविधा को फ्री में देते हैं,  पर डोमेन और होस्टिंग आपको ही खरीदनी पड़ती है |  मैं इसके बारे में भी आपको बताऊंगा | 

आपको Blogging Platform चुनने  पहले इन बातों का ध्यान रखना होता है | 
  • आपका ब्लॉग बनाने का क्या कारण है? 
  • आपका ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म उपयोग करने में आसान है या नहीं?
  • आपका ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म आपको ब्लॉग से कमाने के कैसे मौके देता है?


ब्लॉग बनाने से पहले आपको इन 3  बातों का विशेष तौर पर ध्यान रखना होता है |  क्योंकि ब्लॉग को बाद में किसी एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफॉर्म पर ले जाने में परेशानियों का सामना करना होता है | 

अगर आप ब्लॉग बनाने से पहले ही इन तीन बातों का ध्यान रखेंगे तो आपको बात नहीं कोई परेशानी नहीं होगी |  जब ब्लॉग  प्रसिद्ध हो जाता है या उस पर  ट्रैफिक आने लगता है,  तो आपको चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं होती |   क्योंकि तब आपके पास अपने ब्लॉग से पैसे कमाने के  विकल्प ज्यादा होते हैं | 

List of Popular Blogging platforms:


कुछ ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म जो आजकल के ब्लॉगरों के बीच में काफी प्रसिद्ध है, उनके नाम कुछ इस तरह है | 

  • WordPress.org
  • Wix
  • WordPress.com
  • Blogger
  • Medium
  • Squarespace
  • Joomla
  • Ghost
  • Weebly


जब भी आप कोई फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म  का इस्तेमाल करते हैं तो मैं आपको आपके डोमेन के साथ अपना सब-डोमेन  लगा देता है,  जैसे कि अगर आप blogger पर अपना ब्लॉग होस्ट करते हैं, तो blogspot.com  आपके डोमेन से जुड़ जाता है | 

इस तरह के डोमेन  सर्च रिजल्ट में दिखाई नहीं देते क्योंकि इनके url  SEO फ्रेंडली नहीं होते,  वहीं अगर आप एक प्रो ब्लॉगर बनना चाहते हैं या फिर अपने ब्लॉगिंग कैरियर को लेकर सीरियस है , तो आपको एक custom Domain  की जरूरत है जो आपके ब्लॉग को  सही तरीके से लोगों के सामने प्रस्तुत करें | 
Blogger  प्लेटफॉर्म आपको custom Domain  अपने ब्लॉग से जुड़ने की सुविधा फ्री में देता है |  अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर हैं या आपको ब्लॉगिंग का कोई  अनुभव नहीं है,  तो आपको Blogger पर ही अपना ब्लॉग होस्ट  करना चाहिए |  Blogger  पर अपना ब्लॉग फ्री में होस्ट कर सकते हैं |  पर इसमें ज्यादा विकल्प ना होने की वजह से बड़े ब्लॉगर इसको अपने  ब्लॉगिंग के लिए नहीं चुनते | 

ऐसा नहीं है कि आप custom Domain दूसरे फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफार्म wordpress.com या wix में जोड़ नहीं सकते,  वे भी ये विकलप देते है |  परंतु ऐसा करने के लिए आपको मासिक शुल्क अदा करना पड़ता है |   जो की प्रति माह और प्रति साल  के तौर पर आपसे लिया जाता है | 

Wordpress.com, weebly, wix, और sqaurespace custom Domain अपने ब्लॉग से जोड़ने के लिए आपसे पैसे लेते हैं, अगर आप अपना ब्लॉग इन फ्री प्लेटफार्म पर होस्ट कर रहे है |  पर इनके शुलक(prise) एक दूसरे से अलग है |  अगर आप इसके बारे में ज्यादा जानना चाहते हैं तो आपको  इनकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा | 


List of Popular Web Hosting Providers in India 2019-2020:

blogging-hindi-5

अगर आप अपने ब्लॉगिंग करियर के लिए सीरियस हैं तो मैं आपको Wordpress.org  पर अपना ब्लॉग बनाने की सलाह दूंगा |  पर यह फ्री नहीं है |  यहां पर अपने ब्लॉग होस्ट करने के लिए आपको होस्टिंग खरीदनी पड़ती है।  यह होस्टिंग आपको होस्टिंग कंपनी (होस्टिंग प्रदाता) से मिलती है | 
इनमें से कुछ नामी होस्टिंग कंपनियों के नाम इस प्रकार है | 


Wordpress.org पर अपना ब्लॉग होस्ट करने वाले नामी ब्लॉगरों की माने तो वे Bluehost और SiteGround पर ही अपना ब्लॉग होस्ट  करते हैं |  आप भी चाहे तो इन होस्टिंग कंपनियों को चुन सकते हैं |  यह आपको होस्टिंग के साथ  अच्छी कस्टमर सर्विस देते हैं |  इसके साथ free domain और SSl Certificate भी आपको होस्टिंग खरीदते समय पहले साल के लिए फ्री में दिया जाता है | इस ऑफर के तहत आप 80 डॉलर (5600 रुपए) बचा सकते है | 

आप चाहे तो और भी कई होस्टिंग कंपनियों के पास जा सकते हैं क्योंकि इनकी गिनती 200 से ऊपर है |  इतने ज्यादा विकल्प मौजूद होने से आपको यह छूट मिलती है कि आप अपने ब्लॉग को होस्ट करने के लिए कोई भी कंपनी चुन सकते है | पर आप वही होस्टिंग कंपनी चुने जो आपको अच्छी response speed और uptime दे | 

ऊपर दिए गए 6 होस्टिंग कम्पनियाँ काफी समय से मार्किट में है | इनके लाखो कस्टमर है | आप इनमे से भी कोई चुन सकते है | 

एक ब्लॉग होस्ट करने में साल भर का खरचा करीब 5000-8000 रुपए आता है | यह इस बात पर निर्भर करता है की आप कौन सी होस्टिंग कंपनी चुनते हैं |
सही Hosting कैसे चुने? 

सही Hosting चुनना  अपने आप में एक बड़ी कामयाबी है  क्योंकि आपके ब्लॉग की रीड की हड्डी आपकी वेबसाइट होस्टिंग होती है | अगर आप एक अच्छी कंपनी से होस्टिंग लेते हैं तो आपकी वेबसाइट की स्पीड  सही होती है | पर होस्टिंग खरीदने से पहले आपको ये जानना होगा की किस तरह की होस्टिंग आपके वेबसाइट के लिए सही है |

यह भी पढ़ें - World First Personal Computer Facts in Hindi

What is web Hosting in Hindi: 

यह वास्तव में काफी सरल है। जब आप किसी ब्राउज़र में एक वेबसाइट देखते हैं, तो आप ऐसा कर सकते हैं क्योंकि ब्राउज़र ने कोड से भरी हुई कई फ़ाइलों को डाउनलोड किया है और मार्कअप को ऐसी चीज़ में परिवर्तित किया है जिसे आप वास्तव में देख सकते हैं।

आपके कंप्यूटर की तरह ही, इन फ़ाइलों को कहीं संग्रहीत किया गया था ताकि आप उन्हें एक्सेस कर सकें। हालांकि, आपकी हार्ड ड्राइव के बजाय, वे दूसरे कंप्यूटर पर थे, तथाकथित सर्वर।

सर्वर आपके लैपटॉप की तुलना में अधिक शक्तिशाली हैं (इसलिए वे एक ही समय में वेबसाइट तक पहुंचने वाले कई लोगों को प्रबंधित कर सकते हैं), हालांकि, यह सीपीयू, मेमोरी और अन्य घटकों के समान चीजों से बना है। यहां तक कि इसमें एक ऑपरेटिंग सिस्टम है, आमतौर पर लिनक्स(Linux) आधारित है ।

सर्वर का मालिक इसे उस व्यक्ति को किराए पर देता है, जो आपके द्वारा देखी जा रही वेबसाइट के मालिक है और सर्वर प्रबंधन, समर्थन, मैलवेयर स्कैनिंग, बैकअप आदि जैसी कुछ अन्य सेवाएं भी प्रदान करता है। दूसरों के लिए इस बुनियादी ढांचे को प्रदान करने की प्रक्रिया को वेब होस्टिंग कहा जाता है। जो व्यक्ति इसे करता है, उसे होस्टिंग प्रदाता (Hosting provider) कहा जाता है।


Types of Web Hosting and best fit for blogs and websites:

वेब होस्टिंग को चार भागों में बांटा गया है |  यह भाग सरवर की टेक्नोलॉजी और वेब होस्टिंग में इस्तेमाल होने वाले रिसोर्सेज जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम , मेमोरी इत्यादि के आधार पर किए जाते हैं |  इनमें से आप कोई भी होस्टिंग अपनी वेबसाइट के लिए चुन सकते हैं | 
  • Shared hosting
  • VPS hosting
  • Dedicated hosting
  • Cloud hosting


1. Shared Hosting किसे लेनी चाहिए? 

Shared होस्टिंग वास्तव में सांझा तरीके की होस्टिंग होती है जहां पर आपको अपनी वेबसाइट को अन्य वेबसाइट के साथ सांझा तरीके से रखा जाता है |  अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर हैं या बनना चाहते हैं तो आपको इस तरह की होस्टिंग  को चुनना चाहिए |  क्योंकि यह कम पैसों में उपलब्ध होती है |  

यह भी क्यों Shared होस्टिंग सबसे सस्ती है आप $ 5- / 10 डॉलर / महीने की रेंज में औसत लागत के साथ $ 2 / माह के रूप में सस्ते में ले सकते हैं। सीमित फंड वाले लोगों के लिए बढ़िया और जो अभी शुरू हो रहे हैं।

इसके अलावा, एक Shared होस्टिंग खाते के साथ आप आमतौर पर सेटअप के मामले में पूरी तरह से ध्यान रखते हैं। कॉन्फ़िगर करने के लिए बहुत कम परेशानी होती है | आप अपनी वेबसाइट बनाने पर पूरी तरह से ध्यान केंद्रित कर सकते है ।

शुरुआत में आपकी  ब्लॉग पर विजिटर ज्यादा नहीं होते, इसलिए Shared होस्टिंग सही रहती है | आप Bluehost और HostGrator Shared होस्टिंग ले सकते है |


2. VPS Hosting किसे लेनी चाहिए? 

VPS होस्टिंग में आपको यह ध्यान रखना होता है कि यह किस कंपनी द्वारा दी जा रही है | VPS होस्टिंग लगभग shared होस्टिंग की तरह ही होता है पर इसमें सर्वर को गिनती के कुछ वेबसाइट्स के साथ सांझा किया जाता है | 

उदाहरण के लिए मान लीजिए की होस्टिंग प्रदाता द्वारा किसी एक सर्वर को निश्चित 10 भागों में बांट दिया है उनमें से एक भाग किसी एक वेबसाइट के लिए सुनिश्चित कर दी गई हो इस तरह की होस्टिंग  को ही VPS होस्टिंग कहा जाता है | 

VPS shared होस्टिंग की तुलना में बहुत अधिक विश्वसनीय और स्थिर है। सबसे पहले, आमतौर पर प्रति सर्वर 10-20 वेबसाइटों तक सीमित है। यह अपने आप में सर्वर पर मांग को कम करता है।

यह उन वेबसाइट के लिए होती है जहां पर ट्रैफिक 50000 से ऊपर का हो |  अगर आपका बिजनेस बड़ा है और आपके  ब्लॉग पर एक अच्छी संख्या में विजिटर आते है तो ये होस्टिंग आपके लिए सही है | 

VPS होस्टिंग flexible है| आप जब चाहे अपनी स्पेस और स्पीड को बढ़ा सकते है | अगर आप VPS होस्टिंग खरीदना चाहते हैं तो इन 4 VPS होस्टिंग प्रदाता को ही चुने क्योंकि इनकी कीमत ठीक है और यह अच्छी सर्विस भी देते हैं | 


3. Dedicated Hosting किसे लेनी चाहिए? 

नाम से ही पता लग रहा है कि Dedicated होस्टिंग में  आपको होस्टिंग के लिए सर्वर  समर्पित मिलता है  | आपको आपकी वेबसाइट के लिए जो सरवर मिलेगा उसमें केवल आपकी की वेबसाइट होस्ट  हो रही होगी | 

इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि  आपका ब्लॉग और उसका डाटा सुरक्षित होगा |  कोई भी आपके डाटा को चोरी नहीं कर सकता क्योंकि वह एक अलग कंप्यूटर,  ऑपरेटिंग सिस्टम, और मेमोरी पर सेव  होगा | 

कई होस्टिंग कंपनियां आपको Dedicated होस्टिंग में  रोज बैकअप लेने का विकल्प भी देती है |  इससे आप अपने ब्लॉग वेबसाइट का बैकअप लेकर उसे किसी लोकल  स्टोरेज में सेव कर सकते हैं |  अगर आप की ब्लॉग  पर कोई हैकिंग का अटैक नहीं होता है तब भी आपके ब्लॉग या  वेबसाइट का डाटा सुरक्षित रहेगा | 

Shared और VPS होस्टिंग  के मुकाबले Dedicated होस्टिंग  के लिए आपको अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी |  होस्टिंग कंपनी आपको सुविधा तो देगी पर  उसके लिए आपको एक अच्छी धनराशि खर्च करनी पड़ सकती है | 

अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर हैं तो यह Dedicated होस्टिंग  आपके लिए नहीं है | अगर आप एक अच्छी बातें वेबसाइट चला रहे हैं और अपनी वेबसाइट से अपना बिजनेस बढ़ाना चाहते हैं तो आपको इस तरह की होस्टिंग में निवेश करने की आवश्यकता है | 

आप इन होस्टिंग प्रदाता से भी Dedicated होस्टिंग  खरीद सकते हैं जिनके लिंक नीचे दिए गए हैं आप एक बार इनकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर जरूर चेक करें | 




4. Cloud Hosting किसे लेनी चाहिए? 


क्लाउड होस्टिंग   को होस्टिंग का भविष्य माना जाता है |  और इसके बारे में यह भी कहा जाता है कि आने वाले समय में सभी क्लाउड होस्टिंग पर ही अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को होस्ट करेंगे | इसमें आपका ब्लॉग किसी एक सरवर से जुड़ा नहीं होता,  वह एक सरवर के नेटवर्क से जुड़ा होता है |  जहां जब चाहे वह अपना स्थान बदल सकता है | 

ऐसा इसलिए क्योंकि यह  आपको ‘Demand on scale’  की सुविधा देता है |  अगर आपके  ब्लॉग पर एकदम से ट्रैफिक आ गया,   तो इस होस्टिंग में आपकी वेबसाइट का स्पेस और उसे दी गई हार्डवेयर की शक्ति को आसानी से बढ़ाया जा सकता है |  वहीं  आपके ब्लॉग पर वेब ट्रैफिक कम है,  तो आप कम स्पेस और मेमोरी  का इस्तेमाल करेंगे | 

इस प्रकार का सेटअप सुरक्षा कारणों से भी अच्छा है, विशेष रूप से DDoS हमलों के लिए। उन प्रकार के हैक में, सर्वर क्रैश होने तक समानांतर अनुरोधों के असंख्य से अभिभूत होता है। क्लाउड नेटवर्क में, आप उन अनुरोधों को कई अलग-अलग कंप्यूटरों में फैला सकते हैं और किसी भी एकल-सर्वर प्रणाली की तुलना में उनके प्रभाव को कम कर सकते हैं।

क्लाउड होस्टिंग कुछ चुनिंदा कंपनी द्वारा ही दी जाती है | 



हम आपको यह समझ ही गया होगा कि किस तरह hosting आपके ब्लॉग के लिए सही रहेगा |   अगर आपको होस्टिंग खरीदने में अभी भी कोई दुविधा है |  तो आप मुझे कांटेक्ट करने के लिए Quora  पर मुझसे जुड़ सकते हैं | 


आप Quora पर इंग्लिश या हिंदी दोनों में सवाल पूछ सकते है | मैं दोनों ही प्लेटफार्म पर मौजूद हो | 

अगर आप चाहे तो ऊपर दिए गए होस्टिंग प्लेटफार्म से आप होस्टिंग खरीद सकते हैं |  आपकी जानकारी के लिए मैं बता दू ,  की होस्टिंग कंपनियां यही तक सीमित नहीं है |  कुल मिला कर 200 से ज्यादा कंपनियां होस्टिंग मुहैया कराते हैं |  आप चाहे तो किसी को भी  अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को होस्ट करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं | 

यह भी पढ़ें - 20 Interesting Facts about Apple in Hindi | 

Advance tips to buy hosting in hindi:

पर होस्टिंग खरीदने से पहले आप को इन बातों का ध्यान रखना होगा कि वह होस्टिंग के साथ साथ इस तरह की सुविधाएं आपको दे रहे हैं | अगर आप का होस्टिंग प्रदाता इस तरह की सुविधाएं आपको दे तो आप जरूर उसे चुन  सकते हैं | 
  • User-Friendly
  • Fast Page Loading Speed
  • 99.9% Uptime
  • Technical Support
  • Money back guarantee


अगर आपका होस्टिंग प्रदाता इन तरह की सुविधाएं दे रहा है तो आप उसे ही चुने | कई बार hosting में कई लिमिटेशन भी होती है | Hosting खरीदते समय सारे terms & conditions पढ़ ले | Sitegroud सबसे अच्छी Wordpress hosting देता है | 

यह भी पढ़ें - Interesting Facts about AliBaba in Hindi | 



Professional blogger बनने के लिए 5 Tips  | ( Pro Blogging Tips)


अब जो मैं आपको अपने आपको बताने जा रहा हूं यह आपकी ब्लॉगिंग करियर में  आपको बहुत मदद करने वाला है |  अगर आप ब्लॉगिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आपको इन बातों को जानने की आवश्यकता होगी | 

blogging-hindi-6

यह सब मैंने अपने करियर में सीखा है |  यह मेरे भी बहुत काम आए हैं |  और मुझे विश्वास है कि यह आपके भी काम जरूर आएंगे | 

1.एक Authority Blogger बने | 

जैसा कि आप जानते हैं कि आपकी पहचान आप के काम से होती है | यह आपकी मदद एक अच्छा Authority Blogger बनने में भी करेगा | 

Authority Blogger बनने का रास्ता नहीं है |  क्योंकि इसमें आपको समय लग सकता है | Authority Blogger  से मतलब हमारा यह है कि आप  लोगों के बीच अपनी एक अच्छी छवि बनाएं |  आप अपने ब्लॉग को पर्सनल या प्रोफेशनल तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं |  परंतु Authority Blogger  बनने के लिए आपको अपने ब्लॉग और ब्लॉग niche  से जुड़े हर एक टॉपिक के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए | 

अपने niche के हर एक hot topic अथवा trending topics पर अपना opinion social media पर हमेशा दे. आपका हर एक opinion उनके लिए valuable होना चाहिये जो आपको follow करते हैं. कभी भी अपने आप पर कोई doubt नहीं करना चाहिये। Social Media पर अपनी पहचान एक expert blogger की तरह बनाये।

2.काम का credit दे | 

अगर आप अपने ब्लॉग में किसी और द्वारा जुटाई गई  जानकारी को लिखते हैं तो आप इस बात का ध्यान रखें कि आपको  उनका क्रेडिट देना होगा |   क्रेडिट देने से भी मतलब पैसे देने से नहीं बल्कि  अपने ब्लॉग में लिंक  देने से है | 

अगर आप अपने ब्लॉग पर किसी और  ब्लॉगर द्वारा बनाई गई फोटो, वीडियो या ऑडियो  का इस्तेमाल करते हैं तो आप उन्हें एक लिंक (बैकलिंक)  दे कर अपने विजिटर को यह बताएं कि यह जानकारी आपको किससे मिली है | 

इससे फायदा होगा कि आप के विजिटर आप पर और विश्वास करेंगे |  एक बार आपने विजिटर का विश्वास पा लिया तो आप अपने  ब्लॉग को एक अलग मुकाम पर ले जा सकते है |  और खुद को एक अच्छे  ब्लॉगर के तौर पर स्थापित कर सकते हैं | 

3.Network बनाये | 

एक pro blogger बनने के लिए लोगो के साथ एक strong network बनाना बहुत जरुरी है. सही शब्दों में कहा जाये तो ये एक बहुत ही ज़रूरी चीज़ है | जब आपका एक बढ़िया network होता हैं तब आपको ज्यादा respect भी मिलता है, जिससे आपका Confidence और भी बढ़ता है | 

एक business network आपके business को grow करने में बहुत ही important role play करता है.

एक बढ़िया network बनाने के लिए आपको social media का सहारा लेना चाहिये। और social media के द्वारा लोगो के problem को solve करना चाहिये। अगर आप किसी के problem को solve करते हैं तो इससे आपका एक बहुत ही बढ़िया impact मिलता है. Social Media के साथ साथ आपको अपने niche से related forum को भी join करना चाहिये।

इसलिए ये जरुरी है की आप अपने time में से थोड़ा time एक बढ़िया connection बनाने में दे. केवल अपने फायदे के लिए लोगो से connection ना बनाये बल्कि उनके problem को भी solve करने की कोशिश करें।

यदि आपका लोगो के साथ एक बढ़िया नेटवर्क बन गया तो लोग आपके ब्लॉग को खुद promote करेगें। और आपके ब्लॉग को ज्यादा लोगों तक पहुंच मिलेगी | 

4.कुछ नया सीखते रहे |  (Learn Something New):

ब्लॉगिंग में आपको कुछ ना कुछ नया सीखते रहना चाहिए क्योंकि एक समय के बाद आपकी जानकारी  और अनुभव  पुराना हो जाता है |  आप जो कुछ भी जानते हैं उसके बारे में आप अपने विजिटर  को बता चुके होते हैं | और एक ही तरह की जानकारी को बार-बार दोहराया नहीं जा सकता | 

यही वजह है कि कई नामचीन ब्लॉगर  अपनी जानकारी और स्किल में समय-समय पर  कुछ नया जोड़ते रहते हैं और आप भी यही कर सकते हैं,  अगर आप अपने ब्लॉगिंग कैरियर को लेकर सीरियस है | 

उदाहरण के लिए मैं बताता हूं कि मैंने ब्लॉगिंग के साथ ईबुक लिखना भी सीखा |  आप यह जो भी ई-बुक कर रहे हैं, यह उसी सीख का नतीजा है | 

आप चाहे तो udemy या फिर YouTube से भी सिख सकते है |  किताब पढ़ना भी भी कमाल का तरीका है कुछ नया सीखने के लिए |  आप अपने  विजिटर को जब भी कुछ नया बताएंगे या सिखाएंगे,  तो इससे आपके यह भी ब्लॉग से पैसे कमाने के नए विकलप बनेगे | 

5. Social media पर active रहे | 

जरा सोचिए आपके ब्लॉग पर आने वाला एक विजिटर आपका कोई ब्लॉग पोस्ट पढता है,  उसके मन में कई सवाल होते हैं जिसका जवाब वह आपसे  जानना चाहता है | 

blogging-hindi

वह आपके बताए हुए सोशल मीडिया प्रोफाइल पर जाता है जैसे कि फेसबुक, ट्वीटर या इंस्टाग्राम |  और आपको  मैसेज या पोस्ट करता है |  अगर आपका कोई जवाब नहीं आता,  तो इससे आप अपने एक विजिटर को खो देते हैं |  जरा सोचिए 1 दिन में आपके ब्लॉग पर 10 विजिटर आये  और उनके साथ यही हो,  तो  क्या आप अपने ब्लॉगिंग करियर में अच्छा कर पाएंगे? इसका जवाब है ‘नहीं’ | 

आपको अपने सोशल मीडिया पर लगातार अपडेट रहना होता है जिससे आप लोगों से जुड़ सकें  |  अगर आप  अपने विजिटर का विश्वास जीतने में कामयाब हो गए,  तो आप  जानते हैं कि आप को क्या लाभ होने वाला है | 



ऐसा नहीं है कि ब्लॉगिंग टिप्स केवल यही तक सीमित है |  ऐसे और बहुत से तरीके हैं  जिससे आप खुद को एक प्रो ब्लॉगर के तौर पर ब्लॉगिंग के फील्ड में स्थापित कर सकते हैं |  पर ऊपर जिन भी तरीकों का मैंने विस्तारपूर्वक अनुवाद किया है वह आपको एक अच्छी शुरुआत करने में मदद करेंगे |  थोड़ा समय ब्लॉगिंग में बिताने के बाद आप और गहराई से इन्हें जान लेंगे |

अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर हैं तो यह 5 टिप्स आपके जरूर काम आएगी | अगर आप और भी ब्लॉगिंग टिप्स चाहते है तो आप सीधा मुझे इंस्टाग्राम पर फॉलो करें | 



Earn Money From Blogging easily (Popular Method to earn online):

blogging-hindi-7

अगर आप भी ये सोच कर परेशान होते है की Youtuber और blogger अपनी earning रिपोर्ट दिखाते समय लाखों की कमाई दिखाते है, पर आप ब्लॉगिंग से कुछ ख़ास नहीं कमा पा रहे | तो आप अकेले नहीं हैं,  ऐसे बहुत से लोग हैं जो अपने ब्लॉग या वेबसाइट से  अच्छे पैसे नहीं कमा रहे हैं |  और मैंने एक किताब आप लोगों की मदद के लिए लिखी है | या लिंक पर जा कर आप इसे FREE में डाउनलोड कर सकते है

चलिए जानते हैं ऐसा होता क्यों है?  यूट्यूबर और ब्लॉगर  इस  ब्लॉग या वेबसाइट की रिपोर्ट आपको दिखाते हैं,  उस पर अच्छा खासा कैसे आता है |  वह अपने यूट्यूब चैनल से  ट्रैफिक अपनी वेबसाइट पर ले आते हैं |  नहीं तो उनका ब्लॉग गूगल जैसे सर्च इंजन में अच्छा रैंक करता है,  जिसकी वजह से अच्छा खासा ट्रैफिक उनकी ब्लॉग पर आता है |  यही कारण है कि वह अच्छे पैसे कमाते हैं और आप नहीं | 

एक शुरुआती ब्लॉगर के लिए पैसे कमाना थोड़ा कठिन हो जाता है,  क्योंकि उसकी साइट पर ज्यादा ट्रैफिक नहीं होता |  और यकीन मानिए  वेबसाइट ट्रेफिक ही पैसे कमाने का एकमात्र जरिया है और आपको अपने वेबसाइट के ट्रैफिक पर ही ध्यान देने की जरूरत है | 

अगर एक बार आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक आ गया,  आप किसी भी बिजनेस प्लान को अपने ब्लॉग या वेबसाइट के साथ जोड़कर उस  ट्रैफिक से लाभ पा सकते हैं | 

Popular Method to earn from Blog or website:

ब्लॉग/वेबसाइट को monetize करने के ये 7 तरीके आपने ज़रूर जानते होंगे | 
  • Ad Networks like AdSense, Media.net
  • Direct Advertisements
  • Paid reviews
  • Offer Online consulting
  • Offer Services based on your skills (Upwork & Freelancer)
  • Launch an Online Course
  • Sell your eBook
  • Affiliate marketing



अगर आप एक नए ब्लॉगर हैं तो आप कम ट्रैफिक की समस्या से जूझ रहे होंगे |  ऐसे में आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए की गूगल ऐडसेंस और  Media.net जैसे Ad Networks  आपकी ज्यादा मदद नहीं कर सकते |  ऐसा इसलिए क्योंकि इन Ad Networks  की सबसे पहली कंडीशन यही होती है कि आप की ब्लॉग या वेबसाइट पर ट्रैफिक अच्छा आना चाहिए तभी आप इनसे एक अच्छी रकम कमा सकते हैं | 

Direct Advertisements जब तक आपके ब्लॉग पर अच्छा ट्रैफिक नहीं होता या फिर ऐसा नहीं कि आप अपनी ब्लॉग niche में  अच्छा खासा अनुभव नहीं होता |  तब तक आपको Direct Advertisements  वाले विकल्प नहीं मिलते |  मतलब कि अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर हैं या आपको ब्लॉगिंग फील्ड में ज्यादा अनुभव नहीं हुआ है तो आप इस तरह के विज्ञापन  नहीं कर सकते हैं | 

Paid reviews की भी कहानी  एक शुरुआती ब्लॉगर के लिए मिलती-जुलती ही रहेगी |  क्योंकि आपको  कोई भी कंपनी अपने प्रोडक्ट के लिए Paid reviews  की अच्छी कीमत नहीं देगी | 

पर affiliate मार्केटिंग और ऑनलाइन कोर्स एक नए ब्लॉगर के लिए वरदान है | Affiliate marketing आप सभी को ज़रूर करना चाहिए | क्युकी ये एक अच्छी income करने में नए ब्लॉगर की बहुत मदद करती है | Affiliate marketing में आपको ज्यादा ट्रैफिक को कोई डिमांड नहीं है | 

बस आपको ये ध्यान रखना चाहिए की आपका ब्लॉग niche क्या है | Amazon associate और flipkart affiliate नए ब्लॉगर के लिए सही है | आप चाहे तो इन affiliate networks से भी जुड़ सकते है| 


List of Popular Affiliate Programs for Blogging:

कुछ चुनिंदा Affiliate Program जिनसे आप जुड़ सकते है |

  • Cuelinks
  • Vcommision
  • Impact Radius
  • ShareASale
  • Awin
  • Commission Junction


इन से जुड़ने की सबसे बड़ी वजह यह है कि यहां पर हजारों कंपनियों के एफिलिएट प्रोग्राम चलते हैं | आपको हर प्रोग्राम में साइन अप करने की भी जरूरत नहीं है |  आप इन में से एक में साइन अप कर सकते हैं और हजारों एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ सकते हैं |  अगर आप के ब्लॉग पर ट्रैफिक भारत , पाकिस्तान या बांग्लादेश जैसे एशियाई देशों से आता है तो आप Cuelinks चुने |  यहां पर  ज्यादातर affiliate प्रोग्राम भारत के है | 


मैं अमेजॉन और  फ्लिपकार्ट के एफिलिएट प्रोग्राम से जुड़ा हूं |  वहां पर साइन अप करना बेहद आसान है |  वह हर प्रोडक्ट बेचने पर 10 से 12% की कमीशन आपको देता है |  मोबाइल फोन और इलेक्ट्रॉनिक सामान पर कमीशन कम मिलती है |  आप इन से जुड़ने से पहले एक बार कमिशन के बारे में सारी डिटेल जरूर जान ले | 

नए ब्लॉगर के लिए यह एक अच्छा विकल्प हो सकता है क्योंकि यह गूगल ऐडसेंस और media.net से ज्यादा पैसे देता है |  इससे जुड़ने के लिए आपको अच्छे कहते की भी जरूरत नहीं | 

अगर आप की वेबसाइट पर पहले से ही अच्छा ट्रैफिक आता है,  तब भी आप इन  एफिलिएट प्रोग्राम से जो सकते हैं कोई भी परेशानी नहीं होगी | 

Conclusion

अगर आप एक स्टूडेंट है और ब्लॉगिंग में अपना करियर बनाना चाहते है तो आप Blogspot से ही शुरुआत करें  क्युकी ये Free  है | इसमें आपको ज़ायदा पैसे लगाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी | बस आपको एक Domain खरीदना होगा | आप चाहे तोह BigRocks या Hostgator से इसे खरीद सकते है |  Godaddy में पैसे थोड़े ज्यादा देने पड़ते है | मैंने इसे कुछ समय पहले अनुभव किया था |

Domain खरीदने से पहले आपको एक सही domain name  चुनना होगा | इसके लिए आप Leandomainsearch   पर जा कर सही नाम जान ले |

सही domain name चुनना ज़रूरी है | वही नाम चुने जो आपके Blog Niche से मिलता जुलता है , जिसपर आप अपना ब्लॉग बनाने वाले है |

वहीं अगर आप अपने ब्लॉगिंग करियर को लेकर सीरियस है या ब्लॉगिंग में अपना करियर बनाने की सोच रहे है | तो मैं आपसे निवेदन करूंगा की आप प्रोफेशनल तरीके से ही काम करें | आपको होस्टिंग खरीद कर wordpress.org पर ही अपना ब्लॉग बनाना चाहिए |

Bluehost एक अच्छा ऑप्शन है, Bluehost इसलिए अच्छा ऑप्शन है क्योंकि यह नए ब्लॉगर को कम पैसों में होस्टिंग देता है | Bluehost अपनी होस्टिंग के साथ-साथ आपको Free Domain Name  और Free SSL certificate में देता है जिससे आपका करीब करीब $50 का खर्चा बच जाएगा |  और साल भर की होस्टिंग के लिए आपको काफी कम पैसों का भुगतान करना पड़ेगा | 

आप Bluehost को अपनी पहली ब्लॉग/वेबसाइट के लिए चुन सकते है |

इस आर्टिकल से आपको ब्लॉगिंग के बारे में बेसिक जानकारी मिल गई होगी |  यह जानकारी आपके भविष्य में बहुत मदद करेगी क्योंकि  बुनियादी नींव अगर मजबूत हो तो इमारत में मजबूत बनती है |  इस आर्टिकल में सीखी गई जानकारियों को आप  अपने दोस्तों और परिवार के साथ बांट सकते हैं |  इस आर्टिकल को आप अपने साथ ही ब्लॉगर को भी पढ़ने के लिए बहुत सकते हैं इससे भी काफी फायदा होगा | 

अगर आप ये सीखना चाहते है की ब्लॉग के आर्टिकल का क्या strucutre होता  है? या ब्लॉग पोस्ट कैसे लिखते है? तो मेरे ब्लॉग को ज़रूर पढ़िए | आर्टिकल  कैसे  लिखा जाता है मैंने इसके बारे में विस्तार से बताया है | 

उम्मीद करता हूं कि आपने इस आर्टिकल से जरूर कुछ नया सीखा होगा | डोनेट करने के लिए यहाँ क्लिक करें |



About Author:

I am Kumar Gaurav Singh, author of WhatYouRemind blog.I have 4 years of experience in SEO and Copywriting. I worked as a content writer too. I am helping people in blogging, SEO, digital marketing and CMS like WordPress, Blogger and SquareSpace.


Let's Get Connected: Twitter | Quora | Instagram