क्या आपने कभी सोचा है मार्क ज़ुकेरबर्ग ने बिना किसी MBA degree के Facebook को अच्छे से कैसे संभाला है?

how-mark-zuckerberg-run-facebook-without-mba


इसमें कोई शक नहीं कि फेसबुक दुनिया की टॉप 100 कंपनियों में से एक है। देखा जाए तो फेसबुक ने अपना मार्केट  ख़ास 13 से 25 वर्ष के बच्चों के दम पर बनाया है | पर इस तरह ऑडियंस तक ही सीमित नहीं। 

मैं आपको बताता हू,  यदि आप का फेसबुक पर अकाउंट नहीं है तो आपको लोग हैरानी से देखते है। मैंने ऐसा होने कॉलेज के दिनों में कई बार देखा है | फेसबुक पर एक अकाउंट होना तो ज़रूरी हो गया है |  


इसके पीछे दो कारण हैं। 

1  चाहे आपको अपने दोस्तों से बात करनी है, या फिर अपनी जिंदगी कैसी चल रही है, इसके बारे में पूरी दुनिया को बताना है तो सबसे पहला प्लेटफार्म फेसबुक है | 

आप अपने दिनचर्या से जुड़ी हुई हर चीज को फेसबुक पर पोस्ट कर सकते हैं। यह पोस्ट फोटो, वीडियो और टेक्स्ट के माध्यम से होता है। यालिया दिनों में तो आप वीडियो कॉल का भी आनंद उठा सकते है | 


2  यदि आप फेसबुक इस्तेमाल नहीं करते तो आपके आस पास क्या हो रहा है, आप इसके बारे में नहीं जान पाएंगे | क्योंकि फेसबुक पर हर तरह की जानकारीपोस्ट  होती है।  

कोई भी इस जानकारी को पोस्ट और शेयर कर सकता है | फिर चाहे वो न्यूज़ चैनल हो, मीडिया पब्लिशिंग हाउस हो, फ्रीलांसर पत्रकार हो या कोई नार्मल फेसबुक यूजर | 

इस तरह फेसबुक पर कमाल की जानकारी सिर्फ एक क्लिक के बाद आप पढ़ पाते है | 


क्या आप जानते है फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग दुनिया के टॉप 10 अरबपतियों में आते हैं?  क्या कभी आपने सोचा है कि बिना किसी एमबीए डिग्री के मार्क जुकरबर्ग फेसबुक को टॉप कंपनी के तौर पर कैसे चलाते हैं? 

जो मैं आज आपको बताने जा रहा हूँ | यदि आप कोई बिज़नेस मैन है, खुद का कोई व्यवसाय करते है या सेल्फ एम्प्लॉयड है | तो आपको भविष्य में बहुत काम आएगा | 

जब फेसबुक की शुरुआत हुई थी तो यह हावर्ड यूनिवर्सिटी का एक छोटा प्रोजेक्ट था, जिसमें हावर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले बच्चों को एक साथ जोड़ा जा रहा था | मार्क ज़ुकेरबर्ग इसे खुद से अकेले पूरा कर रहे थे | 

लेकिन उसके बाद फेसबुक ने अच्छे यूजर जोड़ने के बाद एक बड़ा कदम उठाया और कमर्शियल मार्केट में एंट्री की। 

ये हावर्ड यूनिवर्सिटी के यूजर के साथ पब्लिक यूजर को भी अपने प्लेटफार्म में जोड़ने लगी | और एक बड़ा यूजर बेस बनाने की तरफ गयी | और कमर्सिअल होने पर एक अच्छे बिजनेस मॉडल भी अपना लिया | एडवरटाइजिंग।

जहा पर फेसबुक का इस्तेमाल करने वाले यूजर को विज्ञापन दिखा कर मोटी कमाई की जाती है। अब आप ये सोचेंगे की हम यह सारी बातें आपको क्यों कर रहे हैं?  इसके पीछे का कारण यह है की 


Mark Zuckerberg bina MBA ke Facebook ko kaise chalate hai?


1. फैसले होते है अहम: 

जब कंपनी छोटी होती है, यानी कि अपने स्टार्टअप फेस में होती है | तो उसे संभालना आसान होता है |  

लेकिन जैसे-जैसे कंपनी बड़ी हो जाती है। हर एक छोटे फैसले से फर्क पड़ता है | और मार्क जुकरबर्ग यह बात जानते हैं। इसीलिए बिना किसी एमबीए डिग्री के भी वह कंपनी को संभाल रहे हैं  | 

एक सीईओ का काम कंपनी का मैनेजमेंट करना होता है जैसे कि आपको अपनी कंपनी का विजन बेचना  | 

फिर चाहे वह आपके कंपनी में काम करने वाले एंप्लोई हो, इन्वेस्टर हो, या फिर कस्टमर हो। 


2. समय के साथ बदलना: 

जैसे आपकी कंपनी बड़ी बनती है। वैसे आपको अपना नजरिया (vision) बदलना पड़ता है | 

ऐसा कई मायनों में एडजेस्ट करना होता है |  क्योंकि कंपनी के शुरुआती दिनों में कंपनी बिज़नेस के गोल्स (goals ) छोटे या अलग हो सकते हैं, लेकिन जैसे-जैसे कंपनी  विस्तार  करती है, कंपनी के मार्केट के साथ-साथ उसका कस्टमर बेस भी बड़ा होता है | 

इसलिए हर बिजनेस को अपने आप को स्थापित करने के बाद,  अपने टारगेट में बदलाव करने ज़रूरत पड़ती हैं। 

मार्क जुकरबर्ग ने भी जब फेसबुक को लोगों के सामने एक बड़े प्लेटफार्म की तरह पेश किया |  तो उन्होंने समय के साथ इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप जैसे बिलियन डॉलर बिज़नेस को भी खरीदा | 

यह भी पढ़े - अपने बिज़नेस के लिए जरूरी स्किल्स (Skills) कैसे सीखें ?


3. एक अच्छी टीम:  

अब आप इस बात पर हैरान होंगे कि बिना किसी एमबीए डिग्री के मार्ग पर कितनी अच्छी तरह फेसबुक क्यों चला रहे हैं,  तो इसकी भी वजह मैं आपको बता दूं। 

इसकी वजह है,  मार्क ज़ुकेरबर्ग का सही लोगों के साथ संपर्क होना । 

यह सबसे मुश्किल काम होता है कि वह अपने बिजनेस के बड़े फैसले अपनी टीम के साथ लें | 

और मार्क ज़ुकेरबर्ग जो बिना किसी एमबीए डिग्री के फेसबुक को बेहद अच्छे से चला रहे हैं। वह यह बात जानते हैं कि अच्छे लोगों का किसी कंपनी में होना कितना जरूरी है। 

यही कारण है कि फेसबुक इतनी तरक्की कर रहा है, क्योंकि मार्क ज़ुकेरबर्ग जब भी कोई फैसला लेते हैं |  तो वह अपने आसपास के लोगों से अच्छे से सलाह मशवरा करते हैं |  जिससे कि बिज़नस फेसबुक को आसानी से चलाया जा सके। 

Editor's Pick: Archives


Final Words: 

यदि आप कोई बिजनेसमैन है तो आप भी इन 3 बातों का ध्यान रखना चाहिए | 

आप अपने दम पर अकेले किसी भी बिजनेस को नहीं जला सकते चला सकते। 

लेकिन यदि आप अपने बिजनेस में अच्छे लोगों को जगह देंगे तो चीजें आपके लिए भी आसान हो जाएंगी।



यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया तो आप WHatYouRemind के newsletter को सब्सक्राइब कर सकते है | हम हर हफ्ते आपके लिए टेक्नोलॉजी, बिज़नेस और पर्सनल डेवलपमेंट से जुडी अच्छी जानकारी ईमेल के जरिये बिलकुल free में देते है | 


WhatYouRemind.in का एक मात्र लक्ष्य है हिंदी पाठकों के लिए सरल, व्यवस्थित और सही जानकारी मुहैया कराना | ब्लॉग को जीवित रखने और हमारे इस सफर में हमारा साथ देने के लिए "डोनेशन" दे | डोनेशन लिंक निचे है | 🙏

Donate Monthly OR Donate Yearly


WhatYouRemind पर पब्लिश जानकारी सीधा INBOX में पाए |

👇



About Founder & Author:

मेरा नाम कुमार गौरव सिंह (@kg_singh99)है | मैं एक SEO Analyst/Content Writer हूँ | मैं इस फील्ड में पिछले 3 साल से काम कर रहा हूँ | whatyouremind.in एक ads-free हिंदी ब्लॉग है, जहाँ पर जानकारी को व्यस्थित रूप से पाठकों के लिए पब्लिश किया जाता है | आप डोनेशन देकर इस ब्लॉग को जीवंत रख सकते है | Donate Now


Let's Follow Me On 👉 Instagram | LinkedIn